सोशल मीडिया पर डेमोक्रेसी अड्डा, ताकि न फैले भ्रामक संदेश

0
185
Sankt-Petersburg, Russia, July 29, 2018: Apple iPhone X with icons of social media facebook, instagram, twitter, snapchat, google application on screen. Social media icons. Social network

कोलकाताः विधानसभा चुनावों में मतदाताओं की भागीदारी बढ़ाने को लेकर आज सोशल मीडिया एक बड़ा प्लेटफार्म बन चुका है। ऐसे में ट्वीटर का भी उपयोग बड़े पैमाने पर होता है। इसे देखते हुए माइक्रो ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्वीटर ने अनोखी पहल इस बार के विधानसभा चुनाव में की है। इस क्रम में भारतीय निर्वाचन आयोग और राज्‍य निर्वाचन आयोगों के साथ मिलकर ट्वीटर ने छह भाषाओं में विशेष सर्च अभियान की शुरूआत की है। युवाओं के लिए ‘डेमोक्रेसी अड्डा के माध्यम से युवाओं में मतदाता साक्षरता और नागरिक भागीदारी को प्रोत्साहित किया जा सकेगा। माना जा रहा है कि इस पहल के माध्यम से भ्रामक संदेशों को भी रोकने में मदद मिल सकेगी।
महिलाओं को सशक्त कर रहा हर पॉलिटिकल जर्नी
महिला राजनेताओं की सहायता के लिए वीडियो सीरीज की भी शुरुआत ट्वीटर पर की गई है। इसे ‘ हर पॉलिटिकल जर्नी’ नाम दिया गया है। दूसरी तरफ #विधानसभा चुनाव 2021, @ईसीआईस्वीप, #बांग्लार विधानसभा वोट जैसे अभियान भी इसके माध्यम से चल रहे हैं। ऐसे में सर्च इंजन के माध्यम से लोग आसानी से काफी जानकारियां हासिल कर सकते हैं। हर पॉलि‌टिकल जर्नी में महिलाओं की विभिन्न कहानियां व महिला सशक्तीकरण को दर्शाते अभियान गूंजेंगे।
युवाओं की गूंजेगी आवाज
#डेमोक्रेसी अड्डा पर @यूथ की आवाज के तहत चुनाव आयोग के साथ मिलकर ट्वीटर ने पहल की है। ऐसे में विशेष सीरीज अंग्रेजी, हिंदी, तमिल, मलयालम और बांग्ला में उपलब्ध रहेगी। इस दौरान उम्मीदवारों के साथ लाइव वीडियो सेशंस और ट्वीट चैट का भी आयोजन इस पर समय-समय पर नजर आएगा।
ट्वीटर इंडिया (पब्लिक पॉलिसी एंड गवर्मेंट) की पायल कामत ने कहा कि देखा जा रहा है कि चुनावों के दौरान सोशल मीडिया की भूमिका काफी बढ़ी गै। डिजिटलीकरण के बढ़ते दायरे के साथ विश्वसनीय, आधिकारिक और समय पर जानकारी लोगों तक पहुंच सके, इस कारण ट्वीटर कई पहल कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here