दिल्ली में कोरोना से बढ़ा डर, सीएम अरविंद केजरीवाल ने बुलाई आपात बैठक

0
255

राजधानी दिल्ली में कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए सीएम अरविंद केजरीवाल ने आज कोरोना पर आपात बैठक बुलाई है। इस बैठक में मुख्यमंत्री हेल्थ इंफॉर्मेशन मैनेजमेंट सिस्टम की समीक्षा करेंगे। दिल्ली सचिवालय में होने वाली इस बैठक में स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन समेत अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद रहेंगे। अपको बता दें कि दिल्ली में बुधवार को 70 दिन बाद एक दिन में सबसे अधिक 536 नए लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। इससे पहले 6 जनवरी को दिल्ली में 654 मामले आए थे।

वहीं, दिल्ली सरकार ने होम आइसोलेशन वाले मरीजों पर निगरानी बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिला प्रशासन को अपने इलाके में सर्विलांस टीम को फिर से सक्रिय करके होम आइसोलेशन वाले कोरोना मरीजों की निगरानी बढ़ाने को कहा है। दिल्ली सरकार के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक अभी दिल्ली में संक्रमण की दर एक फीसदी से कम है, लेकिन कुछ दिनों से सक्रिय मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों के लापरवाही बरतने की कुछ शिकायतें भी मिली हैं। इसलिए निगरानी बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं।

मोबाइल लोकेशन से नजर रखी जाएगी
कोरोना जब पीक पर था, उस समय सरकार होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों की मोबाइल लोकेशन पर नजर रखती थी। लेकिन बीते कुछ समय से जब कोरोना संक्रमण की दर में कमी आई तो इसमें थोड़ी ढील दी गई। लेकिन अब फिर से सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़ रही है। दोबारा मोबाइल केजरिेए सर्विलांस बढ़ाया जाएगा। जिलास्तर पर एक टीम भी गठित की जाएगी जो होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों के घर जाकर जांच करेगी कि वह घर पर मौजूद है कि नहीं है।

दिल्ली में सक्रिय मरीजों की संख्या 2702 हुई
बुधवार को 536 नए मामलों के बाद दिल्ली में सक्रिय मरीजों की संख्या भी बढ़कर 2702 हो गई है। इसके साथ ही दिल्ली में कोरोना के ‌कुल मरीज 6,45,025 हो गए हैं। इनमें से 6,31,375 मरीज कोरोना से ठीक हो चुके हैं। वहीं 10,948 मरीजों ने कोरोना के कारण दम तोड़ दिया। दिल्ली में कोरोना से मृत्युदर 1.70 फीसदी हैं। विभाग के अनुसार दिल्ली में कोरोना के दो हजार से अधिक सक्रिय मरीजों में से दिल्ली के विभिन्न अस्पतालों में 725 मरीज भर्ती हैं। वहीं कोविड केयर सेंटर में 3 और होम आइसोलेशन में 1438 मरीज भर्ती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here