NDTV वाले रवीश कुमार के भाई पर लग चुका है यौन शोषण का आरोप, विहार में कांग्रेस के है उम्मीदवार

0
142

बिहार में विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं। हर पार्टी इस बार चुनाव के लिए दुगनी तैयारी कर रही है। एक ओर जहां बीजेपी सुशांत सिंह राजपूत की मौत को चुनावी मुद्दा बनाकर बिहार की जनता से हमदर्दी जता रही हैं। वहीं दूसरी ओर अपोजिट पार्टी कांग्रेस ने भी हाथरस कांड को मुद्दा बनाकर बीजेपी सरकार पर बहुत कीचड़ उछाला है। हाल ही में कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव के लिए अपने उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की हैं। सूची में 49 प्रत्याशियों के नाम हैं।

सूची में एक नाम ऐसा है जिसे देखकर सब हैरान रह गए। वह नाम है एनडीटीवी के पत्रकार रवीश कुमार के भाई बृजेश पांडेय का। बता दे कि बृजेश पांडेय का नाम इससे पहले तब सुर्खियों में आया था जब उनके ऊपर एक युवती ने यौन शोषण का आरोप लगाया था। बृजेश पांडेय का नाम सामने आते ही सभी कांग्रेस पर सवाल खड़े कर रहे हैं। बृजेश पांडेय को गोविंदगंज विधानसभा से कांग्रेस का उम्मीदवार बनाया गया है।

शोषण के आरोप के बाद देना पड़ा था इस्तीफा

2015 चुनाव में भी बृजेश पांडेय कांग्रेस के उम्मीदवार थे। वह कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं। साल 2017 में एक युवती ने उनके ऊपर यौन शोषण के आरोप लगाए थे। मामले ने तब तूल पकड़ लिया जब उनके ऊपर  प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रन फ्रॉम सेक्सुअल ऑफेंसेस (POCSO) के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया गया। यह आरोप लगने के बाद उनके ऊपर अपॉजिट पार्टी ने कई सवाल खड़े किए थे। यहां तक की लोगों के गुस्से का सामना उनके भाई रवीश कुमार को भी करना पड़ा। सोशल मीडिया पर भी दोनों भाइयों की खूब बदनामी हुई। यह देखते हुए बृजेश पांडेय ने कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया।

2015 में मिली थी गोविंदगंज में हार

बृजेश पांडे 2015 विधानसभा चुनाव में भी गोविंदगंज विधानसभा से कांग्रेस के प्रत्याशी थे। 2015 में जीत के लिए कांग्रेस ने एड़ी चोटी का जोर लगाया था। इसके बाद लालू-नीतीश-कांग्रेस के महागठबंधन की जीत हुई। हालांकि बृजेश पांडेय गोविंदगंज से चुनाव हार गए थे। वे लोक जनशक्ति पार्टी के प्रत्याशी राजू तिवारी से हार गए थे। हालांकि इस बार भी उनके जीतने की उम्मीद कम ही नजर आ रही हैं। सोशल मीडिया पर तो उनका नाम सामने आने के बाद लोग उनके भाई रवीश कुमार से भी सवाल कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर बृजेश कुमार का राहुल गांधी के साथ फोटो वायरल हो रहा है। इस फोटो के बाद से ही सभी लोग कांग्रेस पर सवाल उठा रहे हैं।

डेढ़ करोड़ से अधिक की थी संपत्ति

बृजेश पांडेय के भाई रवीश कुमार एनडीटीवी के पत्रकार और प्राइमटाइम के होस्ट हैं। बृजेश पांडेय को लेकर रवीश कुमार को भी कई बार ट्रोल किया गया है। बता दे कि बृजेश पांडेय के पिता का नाम बलिराम पांडेय हैं। बृजेश पांडेय ने दरभंगा के जगन्नाथ मिश्रा इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी से पढ़ाई की है। उनके पास सिविल इंजीनियरिंग में बीएससी की डिग्री है। बता दे कि  2015 उनके द्वारा चुनाव आयोग को दिए गए हलफनामे में उन्होंने डेढ़ करोड़ से अधिक संपत्तियों का विवरण दिया था। वहीं उनके ऊपर 3.5 लाख का लोन भी था। इस बार बृजेश पांडेय का चुनावी हलफनामा अभी तक सामने नहीं आया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here