राहुल को ‘उत्तर-दक्षिण’ टिप्पणी के लिए माफी मांगनी चाहिए : अदिति सिंह

0
42

यूपी कांग्रेस की बागी विधायक अदिति सिंह ( Congress Rebel MLA Aditi Singh ) ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) से उनकी ‘उत्तर-दक्षिण’ टिप्पणी के लिए माफी की मांग की है.

aditi singh

 

लखनऊ :

यूपी कांग्रेस की बागी विधायक अदिति सिंह ( Congress Rebel MLA Aditi Singh ) ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) से उनकी ‘उत्तर-दक्षिण’ टिप्पणी के लिए माफी की मांग की है. उनके बयान को ‘गलत’ करार देते हुए अदिति सिंह ने कहा कि राहुल गांधी अपने पूर्व निर्वाचन क्षेत्र अमेठी की तारीफ नहीं कर सकते हैं, जबकि उनके वर्तमान लोकसभा क्षेत्र वायनाड की प्रशंसा करते हैं. अदिति सिंह ने कहा कि आप अमेठी के बारे में ऐसी बातें कहते हैं, जिसने आपको राजनीति का एबीसी सिखाया है, जहां आपके पूर्वजों ने सम्मान और जीत हासिल की और आप दिल्ली पहुंचे. हम एक राष्ट्र हैं। मनुष्य गलतियां करता है, उसे अमेठी के लोगों और उत्तर में लोगों से माफी मांगनी चाहिए.

मंगलवार को, राहुल ने कहा था कि उत्तर में एक सांसद के रूप में 15 साल बाद केरल उनके लिए एक रिफ्रेशिंग अनुभव है. अदिति सिंह ने कहा कि आप कहते हैं कि अन्य पार्टियां विभाजित हैं, लेकिन आप स्वयं विभाजन की बात करते हैं। आप अमेठी, निर्वाचन क्षेत्र के बारे में ऐसी बातें कहते हैं, जिसने आपको राजनीति का एबीसी सिखाया है.

राहुल गांधी के उत्तर बनाम दक्षिण के बयान पर बंटे कांग्रेस नेता

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के उत्तर-दक्षिण वाले बयान पर कांग्रेस के नेता खासकर जी-23 के सदस्य ने कथित तौर पर कहा है कि यह पूर्व पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी पर निर्भर है कि वह उत्तर बनाम दक्षिण के अपने अपने बयान को स्पष्ट करें. कपिल सिब्बल और आनंद शर्मा (Anand Sharma) जैसे कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने कहा है कि राहुल गांधी ही इसे स्पष्ट कर सकते हैं, जबकि अन्य कांग्रेस नेताओं ने राहुल की टिप्पणी का बचाव किया है. आनंद शर्मा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कांग्रेस (Congress) के पास उत्तर के महान नेता रहे हैं और संजय गांधी, राजीव गांधी, सोनिया गांधी, कैप्टन सतीश शर्मा से लेकर राहुल गांधी तक कांग्रेस के नेताओं को चुनने के लिए पार्टी अमेठी के लोगों की आभारी है.

राहुल ही बताएं, उन्होंने बयान क्यों दिया
राज्यसभा में पार्टी के उप नेता आनंद शर्मा ने कहा, ‘राहुल गांधी ने अपने किसी अनुभव के आधार पर टिप्पणी की है, मुझे किसी क्षेत्र के अपमान की बात मुझे नहीं दिखती. राहुल गांधी ही स्पष्टीकरण दे सकते हैं. भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने देश को एक समझा है, हमने कभी क्षेत्र, भाषा और धर्म के आधार पर लकीर नहीं खींची.’ कपिल सिब्बल ने कहा कि वह भाजपा ही है, जो देश को विभाजित कर रही है, लेकिन राहुल गांधी ने जो कहा है, वही इस बारे में बता सकते हैं कि उन्होंने किस संदर्भ में यह बयान दिया है.

एक धड़ा कर रहा बचाव
हालांकि राहुल गांधी के करीबी नेताओं ने खुलकर उनका बचाव किया है. कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा, ‘राहुल गांधी का अवलोकन भाजपा द्वारा विकसित की गई राजनीतिक संस्कृति के लिए है.’ कांग्रेस नेता राहुल गांधी अपने ‘उत्तर-दक्षिण’ बयान को लेकर चौतरफा घिरते दिख रहे हैं. केरल में अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड के दौरे पर गए राहुल गांधी के बयान को लेकर भाजपा जहां हमलावर है, वहीं कांग्रेस इसका बचाव कर रही है.

राहुल ने दिया था यह बयान
वायनाड के दौरे पर गए कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को तिरुअनंतपुरम में एक सभा में कहा था, ‘पहले के 15 साल मैं उत्तर भारत से सांसद था. मुझे वहां दूसरी तरह की राजनीति का सामना करना पड़ता था. केरल आना मेरे लिए ताजगी भरा रहा, क्योंकि यहां के लोग मुद्दों की राजनीति करते हैं और सिर्फ सतही नहीं, बल्कि मुद्दों की तह तक जाते हैं.’ कांग्रेस नेता की टिप्पणी ने उत्तर बनाम दक्षिण बहस छेड़ दी, क्योंकि उन्होंने लोकसभा में अमेठी का प्रतिनिधित्व करने के 15 साल बाद केरल के वायनाड से लोकसभा सदस्य के रूप में अपने कार्यकाल को ताजगी भरा बताया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here