राजस्थान :भाजपा ने कहा- गहलोत सरकार जुगाड़ की सरकार, इसके पास बहुमत नहीं; पायलट को न्योता नहीं देंगे

0
47
  • भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा- अगर बागी विधायक इस्तीफा दे देते हैं तो गहलोत सरकार गिर जाएगी
  • अशोक गहलोत और सचिन पायलट खेमे की नजर अब हाईकोर्ट के फैसले पर, स्पीकर के अयोग्य ठहराने के नोटिस पर सोमवार को सुनवाई
  • गहलोत अब विधानसभा सत्र बुलाने के लिए रणनीति बना रहे हैं, बीटीपी के दो विधायकों ने उन्हें समर्थन पत्र सौंपा

राजस्थान में सियासी उठापटक का रविवार को 10वां दिन है। आज भी कांग्रेस और भाजपा के बीच आरोपों का दौर चलता रहा। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा कि अशोक गहलोत की सरकार जुगाड़ की सरकार है। उन्होंने बहुमत खो दिया है। अगर बागी विधायक इस्तीफा दे देते हैं तो यह सरकार गिर जाएगी।

उन्होंने कहा कि फिर भी भाजपा अविश्वास प्रस्ताव पेश नहीं करेगी। फिलहाल हमारी पार्टी पूरे घटनाक्रम पर नजर रखे है। सोच समझकर कदम उठाएगी। पूनिया ने सचिन पायलट पर कहा कि हम उन्हें न्योता नहीं देंगे। हां अगर वे पार्टी में शामिल होना चाहें तो स्वागत है।

22 जुलाई को विधानसभा सत्र बुला सकते हैं
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सदन में अपनी ताकत दिखाने के लिए बुधवार को विधानसभा का सत्र बुला सकते हैं। सूत्रों का कहना है कि सरकार सोमवार को बागी विधायकों की याचिका पर हाईकोर्ट के फैसले के बाद इस पर विचार करेगी। स्पीकर सीपी जोशी ने सचिन पायलट समेत 19 विधायकों को अयोग्य ठहराने का नोटिस जारी किया था। इसे हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है।

इस बीच, मुख्यमंत्री ने शनिवार शाम को राज्यपाल कलराज मिश्र से चार दिन में दूसरी बार मुलाकात की। इसे उन्होंने औपचारिक मुलाकात बताया। लेकिन सूत्र बता रहे हैं कि इस दौरान उन्होंने विधानसभा सत्र बुलाने पर चर्चा की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here