सुशांत केस की जांच में बिहार पुलिस का आरोप: डीजीपी बोले- मुंबई पुलिस ने सहयोग नहीं किया

0
408

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस को लेकर बिहार और मुंबई पुलिस के बीच खींचतान थम नहीं रही है। डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि मुंबई पुलिस इस मामले में सहयोग नहीं कर रही है। उन्होंने न तो पोस्टमाॅर्टम रिपोर्ट हमें सौंपी, न सीसीटीवी फुटेज और न ही कोई सूचनाएं, जो अब तक जांच के दौरान सामने आईं।

डीजीपी ने कहा कि सुशांत केस बड़ी मिस्ट्री हो गई है। इससे पर्दा उठना चाहिए। इस मामले की सच्चाई जल्द सामने आनी चाहिए। बिहार पुलिस जांच के लिए सक्षम है। परिवार के लोग चाहते हैं तो सीबीआई जांच के लिए आवेदन दें। इस मामले में जिन्हें आरोपी बनाया गया है, वे भागते फिर रहे हैं। बिहार पुलिस इतनी आसानी से केस को नहीं जाने देगी। सच्चाई सामने लाकर रहेंगे।

नीतीश ने भी कहा- पिता मांग करें तो सीबीआई जांच की सिफारिश संभव
इससे पहले शनिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी कहा था कि सुशांत के पिता केके सिंह अगर मांग करेंगे तो सीबीआई जांच की सिफारिश संभव है। एफआईआर दर्ज होने के बाद बिहार पुलिस मुंबई जाकर जांच कर रही है। मुंबई पुलिस को इसमें सहयोग भी करना चाहिए। हालांकि, उन्होंने कहा कि इस जांच में दो राज्यों के बीच झगड़े जैसे कोई बात नहीं है। नीतीश के बयान पर उद्धव ठाकरे ने कहा कि जिस किसी के पास कोई भी सबूत हो या जानकारी हो, उसे लेकर आएं। आरोपी को फांसी पर जरूर लटकाएंगे।

14 जून को सुशांत ने मुंबई में सुसाइड की, कथित गर्लफ्रेंड और उसके परिवार पर पटना में केस
14 जून को एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने मुंबई स्थित अपने फ्लैट में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। सुशांत के परिवार वालों ने 28 जुलाई को पटना के राजीव नगर थाने में गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती और उसके परिवार वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई। चार अधिकारी जांच के लिए मुंबई गए हैं और वहां की लोकल पुलिस के साथ मिलकर मामले की जांच कर रहे हैं। हालांकि, यह आरोप लग रहे हैं कि मुंबई पुलिस बिहार पुलिस के साथ कोऑपरेट नहीं कर रही है। बिहार पुलिस को न तो गाड़ी उपलब्ध कराई गई और न ही अब तक हुए जांच के कोई दस्तावेज दिए गए। सुशांत की मौत के बाद से लगातार सीबीआई जांच की मांग की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here